South Africa Best Time To Visit

South Africa Best Time To Visit 



South Africa great historical country with natural beauty 

साउथ अफ्रिका एक एतिहासिक  प्राकृतिक खूबसूरत   देश 

साउथ अफ्रिका के विचित्र  तथ्य  

दुनिया के सबसे पहले  मानव जीवन के विकास की कहानी का प्रारंभ  यही से  माना गया है  |

प्राकृतिक तौर से यह दुनिया का सबसे विचित्र  देश है | यहाँ के जंगल बहुत प्रसिद्ध है तहा यहाँ का प्राकृतिक नजारा दुनिया के अन्य देशों से भिन्न है |
यहाँ की कुल आबादी लगभग 5 करोड़ 50  लाख  है  तथा यहाँ का क्षेत्रफल  तीन लाख दो हजार  वर्ग   किलोमीटर  है |

इस देश में एड्स  ( AIDS )  की बीमारी  बहुत अधिक मात्रा में है | 
अनुमानित रूप में प्रत्येक पांच लोगों में से एक व्यक्ति एड्स HIV से ग्रसित है |  अर्थात लगभग 15 से 20 % लोग एड्स से जूझ रहे है  | गोरे   लोगो के मुकाबले यहाँ के काले लोगों में यह बीमारी अधिक है | कही न कही  इस बिमारी के प्रति  लोगों में जागरूकता की कमी नजर आती है  | 


यहाँ दुनिया की सबसे बड़ी सोने और हीरे की खाने है |

 यहाँ  भूमध्य रेखा , मकर रेखा और कर्क रेखा इस देश पर होकर गुजरती है |

यह देश फलों के निर्यात (FRUIT EXPORT ) में दुनिया में दूसरे  नंबर पर है |

दुनिया का 90 % प्लेटिनम साउथ अफ्रीका से ही निकलता है |

दुनिया की सबसे बड़ी व्हेल मछली यहाँ मिलती है |

दुनिया के सबसे बड़े जिराफ यहाँ मिलते है | 

दुनिया का सबसे बड़ा बर्ड ऑस्ट्रिच यहाँ मिलता है  |

 दुनिया के सबसे बड़े  हाथी यहीं पाए जाते है  |

 इस देश की खूबसूरती का राज यहाँ के घास के मैदानों , रेगिस्तान , और माउंन्टेंस   से   प्रकृति   का   सौन्दर्य  बड़ा  ही आकर्षक और मनमोहक  
लगता है| 

 इस देश में 6 हजार साल पुराना पेड़ है जिसमे बार बना हुआ है |

साउथ  अफ्रीका में दुनिया का तीसरे नंबर पर साफ़ पानी है |


दुनिया का छठवे नंबर का सबसे अधिक सोना उत्पादन वाला देश है  |


अफ्रीका महाद्वीप के दक्षिणी सिरे पर साउथ अफ्रीका गणराज्य स्थित है |
मनुष्य की बसावट  साउथ अफ्रीका में लगभग एक लाख साल पुरानी मानी गयी है |
  यहाँ रहने  बाले  बहुसंख्यक स्थानीय लोग आदिवासी थे |  4 वीं और 5 वीं शताब्दी में बांतू  भाषी आदिवासियों ने यहाँ के मूल निवासी खोई सान लोगों को विस्थापित करने के साथ ही उनके साथ भी रहने लग गए |
यूरोपियन्स के यहाँ आने से कोसा तथा जूलू दो बड़े समुदाय बन गए |

सन 1962 में डच ईस्ट इंडिया कंपनी से यहाँ रिफ्रेशमेंट सेंटर की स्थापना की गयी |  जो की केपटाउन में स्थित है |

सन  1806 के दौरान केपटाउन ब्रिटिश कौलोनी  बन गया था |   यहाँ  अपने अपने प्रतिनिधित्व  के लिए  कोसा  जूलू   और  अफ्रिक्नर के बीच लडाइयां बढ़  गयी  थी  |

19 वीं शताब्दी में यहाँ हीरे और सोने की खानों की खोज हुई |  जिसके  कारण अंग्रेजो व् वुअरों में आपस में युद्ध होने लगे थे |  सन  1910 में दक्षिण अफ्रिका को सीमित स्वतंत्रता प्रदान की गयी थी |  

सन 1961 में  दक्षिणी अफ्रिका को गणराज्य  का दर्जा  मिला |  प्रबल विरोध के बावजूद भी यहाँ रंगभेद नीति जारी थी |  रंगभेद नीति का दमन 1994 में हुआ ||जब यह देश राष्ट्रकुल  देशों में शामिल हो गया |

यह देश जातीय विविधताओं वाला देश है जहाँ अफ्रीका के किसी भी देश से अधिक गोरे लोग रहते है |  



राष्ट्रवाक्य  ( national word )

यहाँ का राष्ट्र वाक्य  " इके कर्रा  के " है  | जिसका अर्थ यहाँ एकता विविधता में  है |

राजधानी   (Capital )

यहाँ एक राजधानी न होकर विभिन प्रकार से 3 राजधानियां है जिसमे  कार्यपालिका के रूप में  प्रिटोरिया  , न्यायिक तौर पर पर ब्लोमफानटेन , एवं  विधायी  तौर पर  केपटाउन है |  यहाँ संवैधानिक लोकतंत्र (democracy)  है  |  यहाँ के  राष्ट्रपति सीरिल रेमाफोसा है |

मुद्रा   ( currency )

दक्षिण अफ्रीका की  मुद्रा  रेंड  (ZAR )   है |  एक रेंड की कीमत भारतीय  पांच रूपये  ( लगभग )  के बराबर है  |

भाषायें   ( languages )
इस देश में ग्यारह भाषाओं को आधिकारिक दर्जा मिला हुआ है |
यहाँ  अंग्रेजी के साथ साथ अफ़्रीकांस,  दक्षिणी दिविली ,उत्तरी सूपो , दक्षिणी सूपो , खोइसान,  स्वाजी , सोगा , त्स्वाना  , कीसा  और  जूलू भाषा  बोली जाती है |  यहाँ अधिकांशतः जुलू भाषा बोली जाती है 

नेल्सन मंडेला  ( nelson mandela )

 साउथ अफ्रिका में रंगभेद नीति और जातिवाद की स्थिति बहुत अधिक ख़राब थी | जिसके विरोध में नेल्सन मंडेला  ने  अफ्रीकन नॅशनल कांग्रेस  का गठन किया |सन 1950 में नेल्सन मंडेला अफ्रीकन नॅशनल कांग्रेस (ANC )  के  प्रेसिडेंट  चुने गए |
सन 1952 में इनको आतंकवादी घोषित कर दिया गया था | और सन 1962 में नेल्सन मंडेला को 27  वर्षों के लिए जेल में डाल दिया गया |जेल से आने के बाद सन 1994 के चुनाव में नेल्सन मंडेला को पहला ब्लेक प्रेसिडेंट बनाया गया|


संस्कृति  (Culture )

साउथ अफ्रिका की संस्कृति Ethenik और diversity के लिए जानी जाती है |  यहाँ के भोजन में पारंपरिक फलों , सब्जियों , दूध और मांस के उत्पादों का संयोजन पाया जाता है | यहाँ काली मिर्च , मूंगफली और मक्के के खाद्य   उत्पादों का भरपूर प्रयोग किया जाता है  | 
यहाँ की संस्कृति में यहाँ के अति कठिनतम माने जाने वाले समूह गान (folk music  ) , कांगो संगीत (kaango music) बहुत अधिक प्रचलित है |
यहाँ की अधिकाँश आबादी अभी भी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है |  यहाँ के शहरी लोग अधिकतर इंग्लिश या अफ़्रीकनस बोलते है | और कुछ लोग यहाँ " खोइसान " भाषा का प्रयोग करते है |
यहाँ की सस्कृति के सम्बंधित चित्रकला 75000 साल पुरानी है जिसकी पेंटिंग्स यहाँ की गुफाओं में की गयी थी | जो की यहाँ के बांटू (bantu ) और गुनी (nguni ) लोगों के द्वारा बनाई गयी है |

साउथ अफ्रीका की प्रसिद्द  फोटोग्राफी को  प्रदर्शनी विक्टोरिया एवं एल्वर्ट म्यूजियम लन्दन में लगाईं गयीं है |
यहाँ का सबसे लोकप्रिय उपन्यास अफ्रीकन भाषा में "सोलोमन थेकिसो " ने  सन 1930 में लिखा था  |   सन 1981 में "नाडीन गोर्डिमर "द्वारा लिखित उपन्यास  के लिए उन्हें   दक्षिण अफ्रिका की प्रथम एवं साहित्य के लिए 7 वा नॉवेल प्राइस पुरस्कार 1991 में दिया गया | 
यहाँ की संस्कृति   oral poetry   भरी हुयी है |


खेल   ( sports )

यहाँ के सबसे लोकप्रिय खेल फुटबौल , रग्वी , और क्रिकेट है |
सन 1995 में साउथ अफ्रिका में रग्वी (RUGVY) world cup का आयोजन किया गया था |जिसका विजेता साउथ अफ्रिका ही रहा था |
यहाँ सन 2003 में क्रिकेट वर्ड  कप का आयोजन किया गया था |
सन 2007 में क्रिकेट 20- 20 वर्ड कप का आयोजन किया गया |
सन 2010 में FIFA  वर्ड कप फ़ुटबाल  का आयोजन किया गया |

स्काउटिंग   ( scouting )

दक्षिण अफ्रिका स्काउटिंग की गतिविधियों में बहुत अधिक  सक्रीय देश है
सर रोवार्ट बेडेन  पॉवेल  जो की स्काउटिंग के जनक माने गए है | दक्षिण अफ्रिका से ही है |ये एक आर्मी ऑफिसर थे |इन्होने  सन 1890  से 1900 तक में स्काउटिंग की बहुत सारी  गतिविधियाँ  आयोजित की थी |

पर्यटन स्थल  ( turist places )

पर्यटन की द्रष्टि से दक्षिण अफ्रीका में खूबसूरत और प्राक्रतिक सौन्दर्य से भरपूर अनेको पर्यटन  स्थल है 
क्रूगर नॅशनल पार्क 

यह दुनिया के सबसे मशहूर सफारी पार्को में से एक है यहाँ शेर चीता हाथी और राइनो  देखने को मिलते है |पार्क में हॉट एयर वेलून  से घूमने की सुविधा भी  उपलब्ध है |

केपटाउन 

दक्षिणी अफ्रिका की जनसंख्या के हिसाब  से  केपटाउन दूसरा सबसे बड़ा शहर है यह पूरी तरह से प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर है |यहाँ के  पहाड़ और समुद्र   इसे बहुत ही खूबसूरत बनाते है | यहाँ का  कर्स्टन वोस्च वोट्निकल गार्डन को   यूनेस्को   ने वर्ड  हेरिटेज   साइट्स में  स्थान दिया है  |
यहाँ का विक्टोरिया और एल्फ्रेड वाटर फ्रन्ट काफी पसंदीदा जगह है |
जहां खूबसूरत  नजारों   और यहाँ शोपिंग  भी की जा सकती है |
 यहाँ का रोचक एवं  मनमोहक  सूर्यास्त देखने के लिए पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है | केपटाउन में ही दक्षिणी अफ्रिका का संसद भवन स्थित है |



कागलागड़ी  ट्रांस फ्रंटीयर पार्क 

विश्व के सवसे  बड़े   वाईल्ड लाइफ पार्कों में से एक है  यहाँ विशेष प्रकार के पेड़  , गहरा नीला  आसमान , यहाँ की लाल  रंग की मिटटी , चीते और बाघ  देखने को मिलते है | 

स्टेलेन वोश 

 यह दक्षिणी अफ्रिका के सबसे  खूबसूरत  कस्वों  में से एक है  |  यहाँ पुराने पेड़  और फार्म  देखने  को मिलते है  |यहाँ का खाना पर्यटकों को काफी पसंद आता है | यहाँ साइड  वोक  कैफे  और अनेको रेस्टोरेंट्स हैं  |

ड्रेकेंस वर्ग  

यहाँ का ड्रेगन  माउन्टेन  है |यह पर्यटक   स्थलों  में   में सबसे मशहूर  स्थान है   गर्मियों में पहाड़ों से निकलने वाले झरने  और यहाँ की हरियाली के साथ यहाँ का प्राकृतिक परिदृश्य  बड़ा ही लुभावना  और मनमोहक है 



अन्य पर्यटक स्थल 

इनके अतिरिक्त यहाँ अनेको पर्यटल स्थल है   

रोब्बेन  आइलैंड 
वाटर फ्रन्ट 
गांधी स्मारक 
तवो ओकेजंस इक्वेरियम 
टेबल माउन्टेन नेशनल पार्क 
गेम  ड्राइव्स 
सब वर्ड ऑफ़ बीयर (संग्रहालय  )
मंडेला हाउस 
 जोहेनस्वर्ग  प्लेनिटेरियम 
 राइनो एंड लोइन नेचर रिजर्व 
केपटाउन स्टेडियम 
गोल्ड रीफ सिटी  (केसिनो एंड गेम्बलिंग  )
क्वींस होटल 
मोप्नी  अभ्यारण्य 
सांगो केब्ज  
पुन्दा मारिया अभ्यारण्य  
विल्स यूनिवर्सिटी जूलोजी  म्यूजियम 
 लायन  एंड  सफारी   

  आपको ये पोस्ट पसंद आये या और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कृपया नीचे दिए गए  comment box में   comment  करें  तथा  अपने दोस्तों को इस पोस्ट को   share  करें  



1 Comments

Post a Comment

Post a Comment

Previous Post Next Post