दोस्ती करने के 10 सफल और अचूक उपाय best ways for friendship 2020

क्या लोग आपको पसंद नहीं करते ? क्या आप लोगो के साथ असहज महसूस करते है ?लोगों के साथ अच्छे सम्बन्ध बनाने के अचूक उपाय
magic tricks for good relation and friendship


आज के आधुनिक दौर में जहाँ लोग सोसियल मिडिया से जुड़े हुए है और उनके बनाए गए हजारों मित्र है वे अपनी भावनाए अपने जीवन की धटनाये एवं अपने फोटोज व् विडिओ भी अपने मित्रो को भेजते रहते है परन्तु वास्तविक जीवन में उनके कोई भी मित्र नहीं होते है न ही वे अपनी समस्याओ को किसी से शेयर कर पाते है | ये लोग अपने  परिवार अपने समाज और अपने  कार्यस्थल पर भी ये लोग अपने आप को अकेला महसूस करते है |
एसे लोग अपने समाज और अपने साथियों के बीच ना तो ढंग से बातचीत कर पाते है न ही उनके बीच रहकर सहज हो पाते है |
ये लोग खुद को जरूरत से ज्यादा चौकन्ने शर्मीले और सामाजिक व्यवहार में अलग ही नजर आते है |ऐसे लोगों में हीन भावनाएं जन्म ले लेती है |ये लोग समझ नहीं पाते है की उनकी असली समस्या क्या है |
ये लोग अन्य लोगों के साथ सही प्रकार से मेल मिलाप नहीं कर पाने के कारण इनका व्यक्तित्व पूरी तरह से निखर नहीं पाता है |और इनमे लोगो के साथ व्यवहार करने की कला नहीं आ पाती है |
इन लोगों को हमेशा इस बात का अहसास रहता है की कही कोई कमी जरूर है इन्हें इनके परिवार वाले साथी लोग क्यों पसंद नहीं करते है ?
इन्हें अन्य लोगो की अपेक्षा सहयोग क्यों नहीं मिलता है ?

ये लोग चाहते है की लोग इनको पसंद करे | लोग इमके साथ दोस्तों करे और इन्हें सहयोग करें | परन्तु ये लोग लोक व्यवहार में निपुण नहीं होने के कारण सफल नहीं हो पाते है |
आज के आधुनिक युग में समाज को नजर अंदाज करके ख़ुशी व् सफलता हासिल नहीं की जा सकती है |
मानवीय सम्बन्धों में कुशलता प्राप्त करना अन्य क्षेत्रों में सफलता पाने के बराबर होती है  सफलता पाने के लिए कुछ आवश्यक सिद्धांतों की समझ की जरूरत होती है 

1  दूसरों के अहं को समझे  

हर इंसान की नजर में अपना अहं कीमती होता है |हम अहं को व्यक्ति की मानवीय  प्रतिष्ठा  उसका व्यक्तित्व और इज्जत से समझ सकते है |मानवीय सम्बन्ध अपने आप ही अच्छे हो जाते है जब यह मानकर चलते है की हर व्यक्ति महत्वपूर्ण है |जब आप दुसरो के अहं को समझने लग जाते है तो उनके साथ व्यवहार करने में आपको आसानी रहती है आप उनको मान मर्यादा और सम्मान के सैट व्यवहार करते है | जिससे की उनका अहं संतुष्ट होता है और वे लोग आपसे अपनत्व में व्यवहार करने लग जाते है | हमेशा दूसरों की अच्छाइयों को बताने से अआप्का लोगों में सकारात्मक सन्देश जाता है और आप लोगो के बीच अच्छे इंसान की छवि प्राप्त कर लेते है |

2 समय के पाबंद बने 

लोगों को इसे लोग पसंद आते है जो की समय के पावंद होते है | लेट लतीफ़ और झूठे लोगों के साथ कोई भी व्यक्ति दोस्ती नहीं करना चाहता  है आदनी अपने लोकव्यवहार में  तभी सफल हो पाता  है जब वह समय का पाबन्द हो और अपने बेड़े का पक्का हो | 
समय की पाबन्दी जीवन की सबसे मूल्य्बान वस्तु है |आपका हर पल अमूल्य होता है अक्सर हम दस बीस मिनिट या आधा घंटे का कोई महत्त्व नहीं समझते है जिससे हमारी आदत ही लेट लतीफी की बन जाती है हमारे अपने व्यक्तिगत कार्यक्रम  जन्म्दी पार्टी शादी समारोह  आदि नियत समय पर नहीं हो पाते जिसका प्रभाव आने बाले लोगों पर पड़ता है |

दूसरो के साथ किया गया वायदा निभाना भी समय की पाबंदी ही है बेड़ा खिलाफी करने बाले व्यक्ति कोई प्रतिष्ठा नहीं होती है |इससे वह व्यक्ति स्वयं को लोगों की नजरो में गिरा लेता है और उनकी नजरों में अविश्वसनीय बन जाता है |

इसलिए  समय की कीमत पहचानिए अपने समय को नियत समय कर कीजिये और अपना किया बायदा निभाये | लोक व्यवहार में विश्वसनीयता का बड़ा महत्त्व होता है |अगर उसकी कोई साख नहीं होती है तो लोग उस व्यक्ति से मुंह मोड़ने लगते है |और  व्यक्ति  कभी अपनों के बीच मित्रवत नहीं हो पाता  है |


3 अपने व्यक्तित्व को प्रभाबशाली बनाये   

लोगो के साथ आपसी सम्बन्ध बनाने के लिए व्यक्ति का प्रभ्शाली होना जरूरी है | आपका व्यवहार यदि आकर्षक है तो सब लोग आपसे प्रभावित  होते  है |इसलिए आपका व्यवहार शिष्टाचार के अनुसार होना चाहिए |आपके व्यक्तित्व को किस रूप में देखा जाये इसकी पूरी जिम्मेदारी आपकी ही होती है | कई व्यक्ति इसी उधेड़बुन में रहते है की लोग उनके बारे में क्या सोचते है जबकि लोग उनके बारे में ठीक वैसा ही  सोच रहे होते है जैसा की आप अपने बारे में |
यदि आपको व्यव्स्सय की बात करनी है तो अपने बातचीत का ढंग व्यावसायिक ही रखिये तो निश्चित ही सामने बाला व्यक्ति भी आपसे व्यावसायिक रूप से ही बातचीत करेगा ||
हमें अपने भीतर की प्रतिभा को पहचानने और उसे  उजागर करने की जरूरत होती है | प्रत्येक व्यक्ति में कुछ न कुछ विशेषताए होती ह परन्तु हम सदैव अपनी कमियों में ही डूबे रहते है अपनी प्त्रतिभा को उजागर करो और हमेंशा जीवन के प्रातो सकारात्मक सोच रहे लोगों के साथ आपके सम्बन्ध मधुर होते चले जायेंगे |

हमेशा याद रखें कभी किसी को नीचा नहीं दिखाए | एसा करने से से हमारे व्यक्तित्व में कमी प्रकट होने लगती है | निराशावादी और उदास लोग कभी भी अछे सम्बन्ध नहीं निभा पाते है जबकि खुशनुमा आशावादी लोग   अच्छी  चीजों एवं अछे विचारों के खरीददार  होते है |
यदि आप दूसरों पर अपना अच्छा प्रभाव छोड़ना चाहते है तो किसी को भी अपने उत्पादन एवं अपने कार्य के विषय में उसकी सकरार्मक पहलू को ही बताये | दूसरों को नकारात्मक बातें पसंद नहीं आती है |

4 लोगों से संपर्क करने के सफल तरीके अपनाएँ 

यदि आपको अधिक से अधिक  लोगो के साथ अच्छे  सम्बन्ध बनाने है तो कुछ बातों का अवश्य ध्यान देना होगा |अधिकतर सफल लोग शब्दों का सही इस्तेमाल करना जानते है |आपका सामर्थ्य और आपके शब्द एक दुसरे से जुड़े होने चाहिए | ये इस प्रकार जुड़ जाए की आप अपना शब्दकोष बढाते हुए संबंधो में मिठास बना सके एवं खूब धन भी कमा सकें |कुछ लोग इसलिए निराश रहते है की वे अपने विचार और भावनाओ को शब्दों में व्यक्त नहीं कर पाते है और स्वयं को अभिव्यक्त नहीं कर पाते है |
कुछ लोग अजनबियों से अपनी बात चीत का सिलसिला प्रारंभ ही नहीं कर पाते है |याद रखें आदर्श व्यक्ति होने का दिखावा न करे |आप अपनी हलकी फुलकी बातचीत से किसी के भी साथ बातें प्रारंभ कर सकते है |और आपको हमेशा दूसरो की बातों में दिलचस्पी लेनी होगी | दूसरो को हमेशा एसा लगे की आप उन्हें नजर अंदाज नहीं कर रहे है बल्कि आप उनकी महत्वपूर्ण बातो को बड़े ध्यान से सुन रहे है | यकीं मानिए वे लोग आपके मित्र बन जायेंगे |और आपकी बातों में भी दिलचस्पी लेने लगेंगे |

5 तर्क वितर्क करने से बचें  

अक्सर हम दूसरों के साथ तर्क करते रहते है |यह समझकर की वे इसे पसंद करेंगे |जबकि   हमेशा तर्कों का निशाना दूसरों का स्वाभिमान ही बनता है |यदि आप किसी के स्वाभिमान पर ठेस पहुचाते है तो यकीन  करें आप अपने संबंधो को बिगाड़ रहे होते है |इसलिए अच्छे सम्बन्ध और अच्छे दोस्त बनाने के लिए तर्क वितर्क से हमेशा दूर रहें |

6 दूसरों को सुनने की कला अपनाये 

जब हम दूसरों की बातो को समझ व् सहानुभूति के साथ सुनते है तो लोगों के साथ हमारा मेल जोल स्वतः ही बढ़ने लगता है|और दोस्ती बढ़ने में पूरी सहायता मिलती है |लोगों की बातों को ध्यान से सुनना उनका विशवास प्राप्त करने का सबसे बेहतरीन तरिका है |जब आप लोगों की बातें गौर से सुन रहे होते है तो वे लोग आपके अपने प्रिय व्यक्ति की नजर से एवं समझदार की नजर से देख रहे होते है |जब आप लोगों की बाते सुनेगे तब वे लोग आपकी बातों को भी गौर देना प्रारंभ कर देंगे||
जो बोलने की कला में कुशल होते है उन्हें देखना अछा लगता है आप बोलने बाले की ओर निहारिये उन्हें अच्छा लगेगा |उनकी बातों में गहरी दिलचस्पी दिखाइए | उनके मनोभावों को समझे और अपनी सहमती पकात करते हुए ज़रा मुस्कराइए |अ\
बातचीत के दौरान आप उनसे प्रश्न पूछें ताकि उन्हें लगे की आप उन्हें ध्यान से सुन रहे है |बातचीत में कोई भी व्यधान ना करें और अदिक से अधिक जानकारी हासिल करने की कोशिश करें|


7  दूसरों के अच्छे कामों की खुलकर प्रशंसा करें 

दुनिया में हर व्यक्ति प्रशंसा का भूखा होता है जब हम लोगों के अच्छे कार्यों की प्रशंसा करे है तो आप बदले में काफी कुछ मिलने की अपेक्षा कर सकते है |प्रशंसा व्यक्ति के अन्दर ऊर्जा का संचार करती है तो आपका मन खुश होने लगता है जब आप किसी की सच्ची  प्रशंसा कर रहे होते है तो उसके जीवनं में उर्जा संचारित करते है जिससे उसके हौसले बुलंद होते है और आप उनके दिल में अपना एक स्थान बना रहे होते है |किसी के तारीफ़ के पुल बाँधने की आवश्यकता नहीं है केवल सच्चे मन से उनकी तारीफ़ करे |
एक छोटे से से उपकार पर आप शुक्रिया या थैंक यु कहने से हिचकिचाए नहीं | 

8 धन्यबाद देने के मौके गवाए नहीं 

जब आप किसी उपकार के बदले सामने  बाले व्यक्ति से धन्यबाद या थैंक यु कहना चाहते  है तो इसे मौके को छोड़ें नहीं बल्कि बड़ी इमानदारी के साथ उसे धन्यबाद दें |शुक्रिया करते समय शर्माने या झिझकने  की आवश्यकता नहीं है
अपने शब्दों को साफ़ साफ बोले बुदबुदाए नहीं |आप उस व्यक्ति का नाम लेकर धन्यबाद करें |जब आप किसी की तारीफ़ के लिए use धन्यबाद दे रहे है तो इसे समय में भी दे सकते है जबअनेकों लोगों के बीच उपस्थित  उस व्यक्ति को इसकी कोई उम्मीद नहीं हो | उसे  लगेगा की की वे अचानक ही इन शब्दों के हकदार कैसे ही गए | जिससे उनका   आत्म सम्मान अन्य लोगों के सामने बढेगा 

हमेशा ध्यान रखें व्यक्ति के काम की तारीफ़ करें सदैव व्यक्ति की नहीं |
क्योकि किसी के काम की तारीफ़ करने में ज्यादा इमानदारी छिपी होती है |

9 विनम्रता  गुण का महत्व  समझें 

व्यक्ति को सामाजिक स्तर  पर लोकप्रिय होने के लिए उसमे कुछ गुणों का समावेश होना जरूरी है |अपनी इन्ही विशेषताओं के बल पर वह अपने समाज में लोकप्रियता की द्रष्टि से उद्धम और सुख प्राप्त करता है लोक व्यवहार में विनम्रता को विशिष्ठ गुण माना गया है |

विना विनम्रता के एक विद्वान् की विद्वता और सज्जन व्यक्ति की सज्जनता कोई मोल नहीं होता है विनम्र व्यक्ति को सभी सम्मान की दृष्टि से देखते है |विनम्रता बड़ी ही अद्भुत चीज है विनम्रता क्रोध के आवेग को तुरंत समाप्त कर देती है |अचानक आने बाले  क्रोध  और उत्तेजना से बचाव करती है और आपको परेशानियों और झंझटों में पड़ने नहीं देती है |
एक विनम्र व्यक्ति हमेशा आदर और सम्मान का पात्र होता है |सभी लोग उसकी प्रशंशा करते है | जिससे वह सबके स्नेह का पात्र बन जाता है |

विनम्रता के कारण बड़ी बड़ी दुर्घटनाओं को टाला जा सकता है गलतफहमी के कारन होने बाली कटुता वैमनस्य को विनम्र व्यवहार से मिटाया जा सकता है |विनम्रता मानवता के लिए एक अनमोल व्यवहारिक वरदान है |

विनम्र व्यक्ति के साथ यदि कोई व्यक्ति दुर्व्यवहार अथवा अन्याय करता है तो समाज विनम्र व्यक्ति का हितैषी बन जाता ह और असकी सहायता तथा उसका पक्ष लेने के लिए तत्पर हो जाता है |अहंकार विनम्रता का सबसे बड़ा दुश्मन है इसलिए अपने मन में अहंकार को न आने दे |  

विनम्रता व्यक्ति की सज्जनता का प्रतीक है |इसलिए अपने स्वभाव में विनम्रता गुण  का समावेश करें तब आप देखेंगे  की लोग आपकी और कैसे आकर्षित होते है|


10  अपनी कथनी और करनी में सामंजस्य रखें

आपके जीवन में  आपकी कथनी और करनी में अंतर नहीं होना चाहिए |कथनी और करनी में सामंजस्य स्थापित करने वाला व्यक्ति आत्मबल का धनि होता ह उसकी प्रतिभा से हर कोई आकर्षित  हो जाता है |आप जिन कार्यो के लिए दुसरे लोगों से मना करते है पहले स्वयं उन कार्यों को करना बंद करे उन व्यक्तियों को कोई पसंद नहीं करता है जो झूठी और मनगढ़ंत  बातों से से लोगों को भ्रमित करते रहते है लेकिन वास्तविकता में स्वयं कुछ नहीं करते है |जिन लोगों की कथनी और करनी एक ही होती है और वः कार्य करके दिखलाते है लोग उका आदर करते है और उनके अपनी पलकों पर बिठाते है | 

आप व्यवहार में सदैव सत्य का पालन करें| आपकी इमानदारी रुपी चेतना आपको कभी थकान का अनुभव नहीं होने देगी और आपके मन में नयी उम्मीद और आशा का संचार  करेगी  | जिससे आप लोगों के बीच ऊर्जा के साथ व्यवहार कर पाएंगे और लोग भी आपके व्यवहार से प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकेंगे |


 यदि आप इन सभी महत्वपूर्ण बिन्दूओ को अपने जीवन में अपने व्यवहार में समावेशित कर लेंगे तो निश्चित ही समाज में अपने मित्रों केबीच आप एक अच्छे व्यवहारिक मित्रवत और समझदार व्यक्ति के रूप में रहेंगे | और अपने जीवन का आनंद प्राप्त करेंगे |


 यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो  और कोई और जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो   नीचे दिए गए coments box में  comments  करे  एवं  अपने परिवार मित्रों को     share   अवश्य करें 



Post a Comment

Post a Comment (0)

Previous Post Next Post